BNMU:-हरिहर साहा महाविद्यालय के प्राचार्य पर लगाए गए महिला कर्मियों के द्वारा आरोप तालाबंदी एवं विरोध जाप के कार्यकर्ता के द्वारा किया गया - ETV BIHAR NEWS

Breaking

Followers

Tuesday, April 6, 2021

BNMU:-हरिहर साहा महाविद्यालय के प्राचार्य पर लगाए गए महिला कर्मियों के द्वारा आरोप तालाबंदी एवं विरोध जाप के कार्यकर्ता के द्वारा किया गया

 Etv bihar news:-

Prince kr.Raj

बीएनएमयु अंतर्गत उदाकिशनगंज  प्रखंड स्थित हरिहर शाहा महाविद्यालय की दो महिला कर्मियों के द्वारा महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ रामनरेश सिंह पर परेशान एवं प्रताड़ित तथा वेतन रोकते हुए पद से हटाने की धमकी का आरोप लगाने के मामला को लेकर आज ज़न अधिकार छात्र परिषद के द्वारा बीएनएमयु मुख्य द्वार पर तालाबंदी कर धरना पर बैठ गए।आक्रोशित छात्र नेताओं ने सुबह 11बजे से ही विवि बंद कर विवि प्रशासन और आरोपी प्राचार्य के खिलाफ जमकर नारेबाजी किए।इस दौरान विवि के कर्मचारी और पदाधिकारी विवि के बाहर खरे दिखे। वार्ता के लिए आए कुलसचिव को बैरंग लौटना पर क्योकि की प्रदर्शनकारियों के द्वारा लिखित आश्वासन की मांग की गई।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विवि अध्यक्ष अमन कुमार रितेश और जिलाध्यक्ष रौशन कुमार बिट्टू ने किया और कहा कि पीड़िता कर्मी के द्वारा लिखित आवेदन के 5 दिन बीत जाने के वाबजूद भी बीएनएमयु प्रशासन कुंभकर्णी नींद में सोयी हैं।

लगभग चार घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद कुलसचिव डॉ कपिलदेव प्रसाद, कुलानाशक बीएन विवेका और छात्र कल्याण पदाधिकारी अशोक कुमार समेत सभी आलाधिकारी के सकारात्मक बहस के बाद लिखित आश्वासन के मिलने के बाद आंदोलन को स्थगित किया गया।

नगर अध्यक्ष सामंत यादव और कौंसिल मेंबर राजू मन्नू ने कहा कि पार्टी विशेष और रसूख के अनुकम्पा पर प्राचार्य बनेगा तो अंजाम यही सब होगा। बीएनएमयु प्रशासन जल्द से जल्द प्राचार्य रामनरेश सिंह को निष्कासित करें।जिला उपाध्यक्ष अभिनास सिंह और रामप्रवेश यादव ने कहा कि ऐसा न हो कि क्लीन चिट देने वाली जांच कमिटि बैठाकर मामला को रफा-दफा।अगर आरोपी प्राचार्य पर कार्रवाई नहीं हुई तो ज़न अधिकार छात्र परिषद चुप नहीं बैठेगी और अनवरत आन्दोलन करेगी।मौके पर छात्र नेता पिंटो यादव,युवा रंजन, मो सलाम खान,निगम राज,प्रखंड अध्यक्ष मिथुन यादव,मो इरफान,राजा कुमार,राहुल राज,सुधीर भगत,अजय सिंह,सुशांत यदुवंशी,अनुज रॉकी,आर्या रौशन, मिट्ठू,सुशील,पावेल,समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment