पंचायत चुनाव को लेकर यूपी-बिहार के सीमावर्ती इलाके में पुलिस अलर्ट, बिहार में पनाह लेनेवाले यूपी के अपराधियों पर पुलिस कसेगी शिकंजा - ETV BIHAR NEWS

Breaking

Followers

Saturday, March 27, 2021

पंचायत चुनाव को लेकर यूपी-बिहार के सीमावर्ती इलाके में पुलिस अलर्ट, बिहार में पनाह लेनेवाले यूपी के अपराधियों पर पुलिस कसेगी शिकंजा


 सांकेतिक फोटो

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव का बिगुल बज चुका है. 15 अप्रैल से मतदान शुरू हो रहा है. शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए उत्तर प्रदेश की पुलिस ने बिहार पुलिस से मदद मांगी है. उत्तर प्रदेश में वारदात को अंजाम देकर बिहार के विभिन्न जिलों में पनाह लेनेवाले अपराधियों की गिरफ्तारी करने में पुलिस ने सहयोग मांगा है.

इधर, गोपालगंज प्रशासन ने सीमावर्ती सभी थानों को अलर्ट करते हुए यूपी से आनेवाले सभी लोगों की जांच करने का निर्देश जारी किया है. कुचायकोट, विशंभरपुर, गोपालपुर, कटेया, भोरे, विजयीपुर तथा हथुआ थाने की पुलिस को संदिग्धों पर नजर रखने और यूपी में फरार घोषित हुए अपराधियों पर शिकंजा कसने को कहा गया है.


पुलिस की माने तो सीमावर्ती देवरिया व कुशीनगर में क्राइम करने के बाद अपराधी बिहार की तरफ भाग आते हैं. हाल ही में गोपालपुर थाने के कोट नाराहवां में युवती की हत्या कर शव फेंकी गयी थी. ऐसे अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए दोनों राज्यों की पुलिस ने मिलकर विशेष अभियान शुरू कर दी है.

उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों में वारदात को अंजाम देकर बिहार के गोपालगंज में पनाह लेनेवाले कई बड़े अपराधियों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. हाल ही में कुशीनगर में विजयीपुर के युवक समेत दो लोगों की हत्या में फरार दो अपराधियों को पुलिस ने विजयीपुर से गिरफ्तार किया था. इसके अलावा कुचायकोट के बथना, सासामुसा, कटेया, भोरे से कई बड़े अपराधियों की गिरफ्तारी की गयी है.


गोपालगंज के सीमावर्ती यूपी के देवरिया व कुशीनगर जिला पड़ता है. यूपी चुनाव आयोग की ओर से जारी किये गये अधिसूचना के अनुसार तीसरे चरण में 26 अप्रैल को देवरिया और चौथे चरण में मतदान 29 अप्रैल को कुशीनगर में होगा. मतदान से 48 घंटे पहले बॉर्डर इलाके को सील भी किया जा सकता है.

No comments:

Post a Comment