नीतीश कुमार के मुकदमों से हम नहीं डरेंगे, बेरोजगारों की बनते रहेंगे आवाज : तेजस्वी यादव - ETV BIHAR NEWS

Breaking

Followers

Saturday, March 27, 2021

नीतीश कुमार के मुकदमों से हम नहीं डरेंगे, बेरोजगारों की बनते रहेंगे आवाज : तेजस्वी यादव

Etv bihar news : Md Raja

 तेजस्वी यादव


पटना (Patna) में 23 मार्च को राजद (RJD) की ओर से बेरोजगारी, महंगाई और अन्य समस्याओं को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान जमकर हंगामा, उपद्रव और पथराव भी हुआ। वहीं इस मामले में पुलिस की ओर से भी कार्रवाई करते हुए तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) समेत राजद पार्टी के 22 नेताओं (22 leaders of RJD party) पर जानलेवा हमला करने समेत अन्य धाराओं में मामले दर्ज किए गए हैं। डाकबंगला पर तैनात दानापुर की दंडाधिकारी प्रतिमा गुप्ता के बयान पर कोतवाली में यह एफआईआर दर्ज कराई गई है। इनमें एफआईआर कई वर्तमान एमएलए और निर्वतमान विधायक भी शामिल हैं। वहीं इस मामले को लेकर लगातार बिहार सियासत (Bihar politics) में भी हलचल देखी जा रही है।

एफआईआर को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Bihar politics) ने भी शनिवार को ट्वीट कर प्रदेश के सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ निशाना साधा है।


राजद नेता तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा कि बेरोजगारों के लिए नौकरी मांगी तो नीतीश कुमार ने हम पर (307) हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया। बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार, विधि व्यवस्था, किसानों और गरीबों के लिए लड़ने से अगर हमें जेल जाना पड़ेगा तो खुशी से जाएंगे। सीएम साहब! साथ ही चेतावनी भरे लहजे में तेजस्वी यादव ने कहा कि वो डरने वालों में से नहीं है, संघर्ष उनके खून में है।


पटना में 23 मार्च को हुए हंगामे को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव समेत राष्ट्रीय जनता दल के इन प्रमुख 22 नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज हुए हैं। इसमें तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव के अलावा जगदानंद सिंह, निराला यादव, श्याम रजक, अब्दुल बारी सिद्दीकी, आजाद गांधी, निर्भय आंबेडकर, महताब आलम, भाई अरुण, प्रेम गुप्ता, रीतलाल यादव, रमई राम, राजेंद्र यादव, शक्ति यादव, अर्चना यादव, ऋतु, चेतन आनंद डॉ. गौतम कृष्ण, क्रांति सिंह, कारी सुहैब और इसमें 800 अज्ञात शामिल हैं।

No comments:

Post a Comment