• Breaking News

    मधेपुरा:देव दीपावली पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने श्री राधा कृष्ण मंदिर प्रांगण में (1111)दीप जलाया


    देव दीपावली पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने श्री राधा कृष्ण मंदिर प्रांगण पड़वा में (1111)दीप जलाया गया रोशनी से जगमगा उठे मंदिर प्रांगण
    मोके पर संघ सक्रिय कार्यकर्ता आशीष कुमार आनंद ने कहा कि आज कार्तिक पूर्णिमा है। और परंपरा अनुसार आज ही के दिन बनारस में भी देव दीपावली का उत्सव मनाया जाता है
    पौराणिक कथा के अनुसार त्रिपुरासुर नाम के एक राक्षक का भगवान शिव ने वध किया था। क्योंकि त्रिपुरासुर अपनी शक्तियों से सभी देवताओं को बार-बार परेशान किया करता था।इससे बचने के लिए सभी देवतागण भगवान शिव के पास पहुंचे और इस समस्या का हल मांगा। तब बाबा भोले शंकर ने त्रिपुरासुर नामक राक्षस का वध किया है और उसके बाद भगवान शिव की आगमन में दीवाली मनाई थी। एक अन्य कथा यह भी है कि
    गरुड़ पुराण के अनुसार भगवान विष्णु का मत्स्य अवतार कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था इसलिए हम सब मिलकर
    भगवान आगमन के उपलक्ष्य में आज दीप जलाने का कार्यक्रम किए हैं। कार्यक्रम स्थल पर मुख्य अतिथि जिला सह संघ कार्यवाह शिवअवतार भगत विद्यार्थी विस्तारक आलोक जी ने कहा कि देव दीपावली यानी देवताओं की दीपावली। दीपावली के ठीक 15 दिन बाद कार्तिक पूर्णिमा के दिन देव दिवाली का पर्व मनाया जाता है।दीपावली के दिन देवता लोग धरती पर आते हैं इस खुशी में हम लोग दीपावली मनाते हैं ग्रंथों में ऐसी मान्यता है। मोके पर सेकड़ो कार्यकर्ता उपस्थित थे शाखा सह कार्यवाह अंकुर मंडल,अरविंद अकेला, सरपंच धिरेन्द्र मंडल,पुरुषोत्तम मंडल, मुख्य शिक्षक नवीन मोदी, सनोज अमीन, विरेन्द्र मंडल,समेश, अजीत जी, हरीशंकर, दीपक, विकास ठाकुर, संदीप, संगीत, रविंद्र अभिषेक, रोशन,मिठु इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

    No comments

    Total Pageviews

    Followers