सहरसा:कोरोना के नियमों के पालन से ही अभी तक सुरक्षित है सहरसा का साहू टोला - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    सहरसा:कोरोना के नियमों के पालन से ही अभी तक सुरक्षित है सहरसा का साहू टोला


    कोरोना के नियमों के पालन से ही अभी तक सुरक्षित है सहरसा का साहू टोला

    कोरोना योद्धा के रूप में काम कर रहे हैं रवि कुमार

    सहरसा, 19 नवंबर।
    सहरसा जिला के साहू टोला पूरब बाजार वार्ड नं. -19 के लोगों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के नियमों का कठोरता से पालन किया है। इसी का परिणाम है कि आज तक इस मोहल्ले में एक भी कोरोना संक्रमण का मामला नहीं पाया गया।

    शुरुआत समय से ही बरती गई सावधानियाँ-
    साहू टोला पूरब बजार वार्ड नंबर -19 के युवक रवि कुमार ने बताया कि इस मोहल्ले में शुरुआती समय से ही कोरोना संक्रमण के बचाव के नियमों का पालन सख्ती के साथ किया गया। देशव्यापी लॉकडाउन के समय बाहर से आ रहे लोगों पर नजर रखी गई। उन्हें कोरोना रोकथाम के अहम नियमों में से एक 14 से 21 दिनों के क्वारेंटाइन रखने के नियम का पालन करते हुए ही मोहल्ले में प्रवेश दिया गया। मोहल्ले में प्रवेश से पहले हाथ धोने की व्यवस्था की गई तथा दो गज की शारीरिक दूरी बनाये रखा गया। मास्क का उपयोग उचित तरीके से करने की सलाह दी गई एवं नहीं करने वालों को सामाजिक स्तर से उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

    मोहल्ले में कोरोना योद्धा कह कर पुकारे जाते रवि कुमार :
     मोहल्ले के अनिल साह कहते हैं कि आजकल लोगों के बीच कोरोना को लेकर जागरूकता बढ़ गयी है। साथ ही भीड़ वाली जगहों पर जाने से लोग अब कतराने लगे हैं। वहीं स्वच्छता के प्रति भी उनका नजरिया अब बदलने लगा है। वे कहते हैं कि रवि ने लोगों को कोरोना के नियमों के बारे में समझाया जिसका परिणाम यह हुआ कि लोग उनकी बातों पर अमल करने लगे और कोरोना संक्रमित होने से बचे। इस वजह से अब मोहल्ले के लोग रवि को कोरोना योद्धा कह कर पुकारते हैं।

    समाजसेवी के रूप में रवि कुमार ने निभायी अहम भूमिका:
    रवि कुमार ने बताया कि मोहल्ले के लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के तरीकों को समझाते हुए जागरूक किया जाता रहा। मास्क का उपयोग एवं दो गज की शारीरिक दूरी बनाये रखने के फायदों के बारे में लगातार जानकारी दी जाती रही। उन्हें बताया जाता है कि हवा एवं संक्रमित मरीज के छींकने व खांसने से उत्पन्न हुए ड्रॉपलेट से हमें मास्क ही बचाता है। गांव के लोगों को जागरूक करते हुए बताया जाता है कि कोरोना से संक्रमित व्यक्ति से कम से कम दो गज की दूरी रखना आवश्यक है। हाथों को बार-बार स्वच्छ रखने के लिए वे लोगों को सचेत करने से नहीं चूकते हैं। वे लोगों को बताते हैं कि जिस किसी चीज को हम छूते हैं, हो सकता है कि वहां कोरोना वायरस मौजूद हो और छूने पर हाथों में और हाथों से मुंह छूने पर आप कोरोना संक्रमित हो सकते हैं। इसलिए बार-बार हाथों को धोते हुए स्वच्छ रखना भी अति आवश्यक है।

    आस-पास के मोहल्ले में थे कोरोना से संक्रमित मरीज-
    रवि कुमार ने बताया कि आस-पास के  मोहल्ले में कोरोना संक्रमण के कई मामले हुए हैं। लेकिन हमारे मोहल्ले के लोगों ने कोरोना से बचाव के नियमों का  सख्ती से पालन करते हुए अभी तक कोरोना को हराये रखा है।

    कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल: 

    व्यक्तिगत स्वच्छता और 2 गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
    साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
    छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें .
    उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंकें 
    घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
    बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 2 गज की दूरी बनाए रखें.
    आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
    मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें 
    किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
    कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें 
    बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

    No comments

    Total Pageviews

    Followers