ब्रेकिंग न्यूज़/सहरसा:रोड पर टहल रही युवती का मनचलों ने खींचा दुपट्टा, गिरने से मौत, विरोध में महिलाओं ने पुलिस को झाड़ू और चप्पल से पीटा। - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    ब्रेकिंग न्यूज़/सहरसा:रोड पर टहल रही युवती का मनचलों ने खींचा दुपट्टा, गिरने से मौत, विरोध में महिलाओं ने पुलिस को झाड़ू और चप्पल से पीटा।

    सहरसा। पस्तपार पुलिस शिविर के केशवपुरपट्टी में अपनी सहेलियों के साथ घर के समीप रविवार को टहल रही युवती की जान मनचलों ने ले ली। बाइक सवार मनचलों द्वारा युवती का दुपट्टा खींच लेने के बाद सड़क पर गिरी युवती बाइक के चपेट में आ गयी और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। घटना से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर जमकर हंगामा किया।


    मौके पर पहुंचे पस्तपार शिविर प्रभारी को महिलाओं ने खींचकर चप्पल व झाड़ू से पिटाई कर दी। आक्रोशित लोग शिविर प्रभारी पर शराब तस्करों को संरक्षण देने का आरोप लगा रहे थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि बुलबुल कुमारी (19) अपनी सहेलियों के साथ सुबह घर के समीप ही टहल रही थी। उसी शिविर के चौकीदार का पुत्र मिथुन कुमार अपने दो अन्य साथियों के साथ बाइक से गुजरने के दौरान सड़क पर टहल रही बुलबुल का दुपट्टा खींच लिया। जिससे युवती गिर गई और बाइक की चपेट में आने से बुरी तरह जख्मी हो गई। युवती को इलाज के लिए मधेपुरा ले जाने के क्रम में उसकी मौत हो गई। वहीं घटना के बाद मनचले बाइक घटनास्थल पर छोड़कर भाग निकला। मनचलों पर कार्रवाई करने सहित शराब कारोबारी को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए लोगों ने कहरा मोड़-पतस्पार सड़क मार्ग को जाम कर हंगामा शुरू कर दिया। 


    सूचना पर शिविर प्रभारी परशुराम दास पुलिस बल के साथ पहुंचे और लोगों को समझाने की कोशिश की। लेकिन लोगों का कहना था कि शिविर प्रभारी शराब तस्कर को संरक्षण देते हैं। लोगों ने कहा कि पस्तपार पंचायत के ठाढी निवासी चौकीदार कलानंद पासवान का पुत्र मिथुन कुमार सहित कई लोग शराब की तस्करी करते हैं। परंतु उसे पकडऩे के बदले पुलिस संरक्षण देती है। लोगों को यह भी आशंका हुई कि चौकीदार पुत्र को शिविर में रखकर उसे सुरक्षित किया जा रहा है। यह बातें कानोंकान महिलाओं तक पहुंच गई और महिलाओं द्वारा शिविर प्रभारी को एक घर के बरामदे पर ले जाकर चप्पल व झाड़ू से पिटाई कर दी। जिसके बाद पहुंचे पतरघट ओपी प्रभारी अजीत कुमार, सअनि हरिशंकर चौधरी पहुंचे और लोगों को पुलिस अधीक्षक से बात कराया जिसके बाद लोग शांत हुए। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


    शिविर प्रभारी ने माना की गई मारपीट


    शिविर प्रभारी परशुराम दास ने कहा कि वे घटना की सूचना अनि लाला प्रसाद, सअनि अरङ्क्षवद पासवान के साथ तो लोगों ने आक्रोश जाहिर करते हुए उनके साथ मारपीट शुरू की दी। जिससे उन्हें काफी चोटें आई है। वर्दी का स्टार व वर्दी का बटन भी टूट गया। कहा कि पूरे मामले की जानकारी उच्च अधिकारियों को दे दी गई है। वे इलाज कराने के लिए जा रहे है।

    No comments

    Total Pageviews

    Followers