पूर्णियां/कोरोना संक्रमण का खतरा बरकरार, लोगों को अभी भी सावधानी बरतने की जरुरत - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    पूर्णियां/कोरोना संक्रमण का खतरा बरकरार, लोगों को अभी भी सावधानी बरतने की जरुरत

    कोरोना संक्रमण का खतरा बरकरार, लोगों को अभी भी सावधानी बरतने की जरुरत

    - हमेशा करें मास्क का उपयोग
    - नियमित हाथ सैनिटाइजर का करें इस्तेमाल
    - साफ-सफाई का भी ध्यान रखना जरूरी

    पूर्णियाँ : 12 अक्टूबर

    जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा अभी भी मंडराया हुआ है. प्रतिदिन सैकड़ों लोग संक्रमण के शिकार हो रहे हैं. कोरोना संक्रमण को पूरी तरह खत्म करने के लिए लोगों को अभी भी बहुत ज्यादा सावधानियां बरतने की जरुरत है. बिना किसी आवश्यक कार्य के बाहर निकलने से बचने के साथ साथ हमेशा लोगों को मास्क का इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है. मास्क ही लोगों को इस संक्रमण के चपेट में आने से बचा सकता है. लॉक डाउन के खुलने से बाजार में लोगों की सक्रियता बढ़ रही है जिससे संक्रमण का खतरा भी ज्यादा हो गया है. संक्रमण को खत्म करने के लिए लोगों को सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देश का पालन करते हुए जरूरी  सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए.

    दिन ब दिन बढ़ रही है मरीजों की संख्या :

    सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा ने बताया कि वर्तमान में जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 541 है. अब तक जिले में कुल 6568 लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हो चुके हैं, जिसमें से 6014 मरीज कोरोना को हरा कर निकल भी चुके हैं. जिले में अबतक कोरोना से 13 मृत्यु हुई है. लॉक डाउन समाप्त हो गया है और लोग जरूरी सावधानियों का खयाल रखे बिना ही बाजारों में घूमते दिख रहे हैं. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने से संक्रमित व्यक्ति की संख्या में इजाफा हो रहा है. अगर इसे खत्म  करना है तो लोगों को सरकार के दीए गए दिशा निर्देशों का ध्यान रखना चाहिए. जरूरी काम से ही बाहर निकलें, हमेशा मास्क का उपयोग करें, सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखें, हाथों को नियमित सैनिटाइज करते रहें इत्यादि. इन निर्देशों का पालन करने पर ही हमलोग कोरोना संक्रमण से निजात पा सकते हैं.

    संक्रमण से बचाव के लिए इन बातों का रखें ध्यान :

    कोरोना से बचाव के लिए लोगों को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए. यदि आपको बुखार, सर्दी या सांस लेने में समस्या हो तो तुरंत चिकित्सक से सम्पर्क करें, क्योंकि यही लक्षण कोरोना संक्रमित होने का संकेत देते हैं. सर्दी जुकाम कि हालत में दूसरों के साथ नजदीकी संपर्क ना बनाएं व खुले में थूक भी न फेकें. बाहर होने की स्तिथि में यदि कोई व्यक्ति बीमार लग रहा हो और खांस या छींक रहा हो तो उससे कम से कम 2 मीटर की दूरी बना लें. बाहर से आने के बाद अपने हाथों को अच्छी तरह 20 सेकंड तक साबुन एवं पानी से धोएं या सैनिटाइजर का उपयोग करें. हाथ धोये बिना अपनी आँखें, नाक और मुंह को न छुएं और न ही किसी दूसरे व्यक्ति को छुएं.

    सावधानी के लिए ध्यान रखें कि :

    • खांसने, छींकने, खाना पकाने से पहले, पकाने के दौरान एवं बाद में, खाना खाने से पहले एवं  शौचालय के बाद एवं जानवरों की देखभाल के बाद हाथों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ़ करें.
    • विभिन्न कच्ची पदार्थों से खाना पकाने के दौरान अच्छी तरह से हाथ धोएं. 
    • छींकते एवं खांसते समय टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें. इस्तेमाल के बाद टिश्यू पेपर को डस्टबीन में डालें.
    • हमेशा मास्क का उपयोग करें.

    No comments

    Total Pageviews

    Followers