Bihar Election:बिहार में वैक्सीन से वोट का `सौदा` आखिर क्यों? क्या अब `कोरोना` जिताएगा चुनाव - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    Bihar Election:बिहार में वैक्सीन से वोट का `सौदा` आखिर क्यों? क्या अब `कोरोना` जिताएगा चुनाव



    पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में कहा है कि दोबारा सत्ता में आने पर बिहार के लोगों को फ्री में कोरोना की वैक्सीन दी जाएगी. ऐसे में अब सवाल उठ रहे हैं कि क्या बिहार में अब `कोरोना` जिताएगा चुनाव? Subscribe to updates पटना: बिहार चुनाव (Bihar Election 2020) के लिए अपना संकल्प पत्र जारी भारतीय जनता पार्टी (BJP) सवालों के घेरे में आ गई है. दरअसल, पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में कहा है कि दोबारा सत्ता में आने पर बिहार के लोगों को फ्री में कोरोना की वैक्सीन दी जाएगी. ऐसे में अब विपक्षी पार्टियां सवाल उठा रही हैं कि क्या कोरोना का टीका बीजेपी का है या पूरे देश पर इसका हक होगा? बिहार में वैक्सीन से वोट का 'सौदा' आखिर क्यों? इसे लेकर आप क्या सोचते हैं #WhyVoteForVaccine पर ट्वीट कर अपनी राय हमें बताएं. भाजपा का संकल्पपत्र बिहार चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुवार को संकल्प पत्र ‘आत्मनिर्भर बिहार का रोडमैप 2020-25' जारी किया. जिसमें कोरोना वायरस (Corona Virus) का नि:शुल्क टीका लगाने, तीन लाख शिक्षकों की नियुक्ति करने सहित शिक्षा, चिकित्सा एवं अन्य क्षेत्रों में 19 लाख नए रोजगार देने, महिलाओं के लिए सूक्ष्म वित्तपोषण की नई योजना लाने और बिहार (Bihar) को सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) का केंद्र बनाने सहित 11 संकल्प व्यक्त किए गए हैं. Advertising Advertising केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने भाजपा का यह संकल्प पत्र (Resolution letter) जारी किया जिसे ‘आत्मनिर्भर बिहार का रोडमैप 2020-25' का नाम दिया गया है. इसके तहत पांच सूत्र, एक लक्ष्य, 11 संकल्प रखे गए हैं. इसके साथ ही पार्टी ने 'भाजपा है, तो भरोसा है' का नारा भी दिया है. इस दौरान भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, नित्यानंद राय, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल सहित कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे. सीतारमण ने संवाददाताओं से कहा कि बिहार एक ऐसा राज्य है जहां सभी नागरिक राजनीतिक रूप से संवेदनशील और अच्छी तरह से सूचित हैं और वे उन वादों को जानते और समझते हैं जिन्हें पार्टी करती है. उन्होंने कहा, ‘हमने भरोसे को आधार मानकर संकल्प पत्र तैयार किया है. हमारे हर संकल्प पत्र में वादे को पूरा करने की प्रतिबद्धता होती है. इसलिये जब कभी हमारे घोषणापत्र के बारे में पूछा जाता है तब हम उन्हें विश्वास के साथ जवाब दे सकते हैं कि हमने जो वादा किया था, उसे पूरा करते हैं.’ वित्त मंत्री ने कहा कि जब तक कोरोना वायरस का टीका नहीं आता है, तब तक मास्क ही टीका है, लेकिन जैसे ही टीका आ जायेगा तो भारत में उसका उत्पादन बड़े स्तर पर किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प है कि जब टीका तैयार हो जायेगा तब हर बिहारवासी को कोरोना वायरस का टीका निः शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा. भाजपा की वरिष्ठ नेता ने कहा कि जब हम विकास की बात करते हैं तब 1990 से 2005 के 15 साल के शासनकाल और 2005 से 2020 के शासनकाल की तुलना करें तो स्थिति स्पष्ट होगी. उन्होंने कहा कि बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग)सरकार के पिछले 15 वर्षों के शासन में राज्य का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) तीन प्रतिशत से बढ़कर 11.3 प्रतिशत हो गया है. बिहार का बजट 2005 के 23 हजार करोड़ रुपये से बढ़कर दो लाख करोड़ रुपये हो गया है, कृषि विकास दर दो प्रतिशत से बढ़कर 8.5 प्रतिशत हो गई, बिजली उत्पादन 22 प्रतिशत से बढ़कर अब 100 प्रतिशत हो गया और प्रति व्यक्ति आय में भी काफी वृद्धि दर्ज की गई. सीतारमण ने कहा कि 2005 से पहले के औद्योगिक उत्पादन का सतत आंकड़ा नहीं मिला है क्योंकि पूर्व की सरकार की प्राथमिकता औद्योगिक विकास नहीं था. राजग सरकार के दौरान प्रदेश की औद्योगिक विकास दर 17 प्रतिशत हो गई है. 
     भाजपा के संकल्प पत्र में कहा गया है कि आने वाले एक वर्ष में राज्य के सभी प्रकार के विद्यालय, उच्च शिक्षा के विश्वविद्यालयों तथा संस्थानों में तीन लाख नए शिक्षकों की नियुक्ति करेंगे. इसमें 10 हजार चिकित्सों सहित कुल एक लाख लोगों को स्वास्थ्य विभाग में नौकरी के अवसर देने, बिहार में मेडिकल, इंजीनियरिंग सहित तकनीकी शिक्षा को हिंदी भाषा में उपलब्ध कराने का संकल्प व्यक्त किया गया है. भाजपा ने कहा है कि कोरोना वायरस का टीका तैयार होने पर हर बिहारवासी को कोरोना का निःशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा.

    No comments

    Total Pageviews

    Followers