मधेपुरा/Bihar Election:जिले में सोमवार को खचाखच रहे सभी दल के समर्थक कई दिग्गज नेताओं ने अपना नामांकन पर्चा दाखिल कर जीत की भरी हुंकार। - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    मधेपुरा/Bihar Election:जिले में सोमवार को खचाखच रहे सभी दल के समर्थक कई दिग्गज नेताओं ने अपना नामांकन पर्चा दाखिल कर जीत की भरी हुंकार।





    मधेपुरा :- जिले में सोमवार को खचाखच रहे सभी दल के समर्थक कई दिग्गज नेताओं ने अपना नामांकन पर्चा दाखिल कर जीत की भरी हुंकार।




    मधेपुरा से रामानंद कुमार ब्यूरो रिपोर्ट




    आपको बता दे की मधेपुरा जिला भर के चारो विधानसभा में कई दिग्गज नेता ने नामांकन दाखिल किया । मधेपुरा विधानसभा से राजद उम्मीदवार प्रोफेसर चन्द्रशेखर, जदयु उम्मीदवार निखिल मंडल, निर्दलीय उम्मीदवार शशी कुमार, सिंघेश्वर विधानसभा से जदयु उम्मीदवार डॉ रमेश ऋषिदेव, राजद उम्मीदवार चंद्रहास चौपाल, आलमनगर विधानसभा से जदयु उम्मीदवार नरेंद्र नारायण यादव, राजद उम्मीदवार इंजीनियर नवीन कुमार, लोजपा उम्मीदवार सुनिला देवी, बिहारीगंज विधानसभा से इंजीनियर ई प्रभाष, महागठबंधन से कांग्रेस नेत्री सुभाषिनी बुंदेला, मोहन कुमार राष्ट्रीय सेवा दल पार्टी ,अरुण कुमार लोक शक्ति पार्टी ने अपना नामांकन पर्चा दाखिल किया है । नामांकन पर्चा दाखिल कर निकलने के बाद साथ में आए सभी उम्मीदवार के समर्थकों के द्वारा माला पहनाने की होड़ मच गयी। वही समर्थकों के द्वारा अपने नेता का नाम लेकर जिंदाबाद के नारे लगाया जा रहे थे। सभी उम्मीदवार अपने अपने विधानसभा के लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप लोगों ने कई दल के व्यक्ति को मौका दिए अपना अधिकार दिये है, बस मुझे 5 साल का अधिकार दीजिए मैं विधानसभा का पिछड़ेपन का कलंक मिटा दूंगा। किसी भी क्षेत्र में विकास नहीं हुआ है, चाहे वह शिक्षा के क्षेत्र में हो स्वास्थ्य के क्षेत्र में हो किसान की समस्या हो बाढ़ की समस्या हो मैंने सारी समस्याओं को अपने आत्मसात के साथ देखा है इस समस्या से विधानसभा क्षेत्र के लोगों की कितनी पीड़ा है। यह मैं समझ रहा हूं। सभी उम्मीदवार ने बारी बारी से कहा मुझे क्षेत्र के तमाम लोगों के द्वारा विश्वास दिया गया जिसको लेकर मैंने अपना उम्मीदवारी दी है। विधानसभा की जनता ने मुझ पर भरोसा कर प्रत्याशी बनाया है मेरी जीत इस बार सुनिश्चित है मेरी पहली प्राथमिकता होगी शिक्षा स्वास्थ्य किसानों की समस्या कॉलेज यह सारी समस्या का अभिलंब समाधान करना। सभी नेताओं के अपने विधानसभा के दर्जनों समर्थक मौजूद थे।

    No comments

    Total Pageviews

    Followers