Flood in North Bihar: उत्तर बिहार में बाढ़ का कहर, तीन तटबंध टूटे; नदियां उफान पर - ETV BIHAR NEWS
  • Breaking News

    Flood in North Bihar: उत्तर बिहार में बाढ़ का कहर, तीन तटबंध टूटे; नदियां उफान पर

    @ETV BIHAR NEWS

    मुजफ्फरपुर। उत्तर बिहार में सोमवार को भी बारिश और बाढ़ का कहर जारी रहा। नदियां उफान पर रहीं। नए क्षेत्रों में पानी घुसने से परेशानी बनी रही। मधुबनी जिले में एक और पूर्वी चंपारण में दो तटबंध टूट गए। दरभंगा में नए पुल का एक हिस्सा कमला नदी में बह गया। समस्तीपुर में बारिश के दौरान घर गिरने से एक महिला की मौत हो गई। सीतामढ़ी में बाढ़ के पानी में डूबने से दो की मौत की खबर है। मधुबनी में एक वृद्ध पानी में बह गया। बगहा शहर में एक मगरमच्छ बहकर आ गया। इससे घंटों अफरातफरी रही।

    पश्चिम चंपारण : जिले के मधुबनी, भितहां, पिपरासी और ठकराहां प्रखंड के दो दर्जन गांव जलमग्न हैं। लोग ऊंचे स्थानों पर रह रहे हैं। नौतन और योगापट्टी प्रखंड के दियारे में गंडक की तबाही जारी रही। लोग सुरक्षित स्थानों पर पलायन कर गए हैं। धारमहुई में मसान नदी का तेज कटाव जारी रहा। गंडक का जलस्तर 2.73 लाख क्यूसेक पर पहुंच गया है। गंडक बराज के सभी फाटक पूरी तरह उठा दिए गए हैं। अभियंताओं की टीम कैंप कर रही है। गंडक नदी की बाढ़ में बहकर एक मगरमच्छ बगहा शहर के शास्त्रीनगर में पहुंच गया। उसने दो मेमनों का शिकार किया। बचाने गए दो लोग भी घायल हो गए। मशक्कत के बाद वन विभाग की टीम साथ ले गई।

    पूर्वी चंपारण : अरेराज के गंडक तटवर्ती इलाकों में पानी फैल गया है। ऊंचे स्थानों की ओर पलायन की तैयारी में है। गंडक और बागमती नदी के किनारे बसे लोगों की परेशानी बढ़ गई है। प्रशासन अलर्ट है। आदापुर प्रखंड के कई गांवों में पानी फैल गया है। सोनरा टोला के सामने बंगरी नदी पर बना बांध टूट गया। इससे सोनरा टोला, महादलित बस्ती व चैनपुर गांव में पानी फैल गया है। कोरैया एसएसबी कैंप पसाह और मरधर नदी के पानी से घिर गया है। सड़क संपर्क भंग हो गया है। हजारों एकड़ में लगी धान, अरहर व मकई की फसल डूब गई है। छौड़ादानों प्रखंड के पुरैनिया, रामपुर, भतनहिया, तीनकोनी, लोहडिय़ा, भवानीपुर में तबाही मची है। छौड़ादानो के नरकटिया गांव के सामने दुधौरा नदी का तटबंध टूट गया है। दुधौरा और पसाह का पानी बंजारी, भगड़ी गांव में प्रवेश कर गया है। बंजारी गांव के सामने सड़क पर तीन फीट पानी बह रहा है।

     

    • समस्तीपुर में बारिश के दौरान घर गिरने से एक महिला की मौत, सीतामढ़ी में दो डूबे, मधुबनी में पानी में वृद्ध बहा
    • पश्चिम चंपारण के बगहा शहर में बाढ़ में बहकर आया मगरमच्छ, अफरातफरी
    • पूर्वी चंपारण में कोरैया एसएसबी कैंप पानी से घिरा, सड़क संपर्क भंग
    • लखनदेई नदी में बाढ़ से सीतामढ़ी शहर पर भी खतरा बढ़ा
    • मुजफ्फरपुर के कटरा के बकुची पावर सब स्टेशन में पानी घुसा

    मधुबनी : झंझारपुर में कमला बलान खतरे के निशान से 2.60 मीटर ऊपर है। भुतही बलान भी नदी खतरे के निशान की ओर है। लौकही प्रखंड के नरहिया चतरा पट्टी के पास बिहुल नदी का बांध टूट गया है। कई जगह सड़क भी ध्वस्त हो गई। फुलपरास के कालिकापुर में बना चचरी पुल में भुतही की तेज धारा में बह गया। कई गांवों का सड़क संपर्क भंग हो गया है। लदनियां प्रखंड के कई गांवों में गागन नदी का पानी फैल गया है। मधेपुर प्रखंड के कोसी प्रभावित गांवों में स्थिति गंभीर बनी है। बाबूबरही प्रखंड के मुरहदी पैक्स अध्यक्ष के पिता मोतीलाल दास कमला नदी की तेज धारा में बह गए। तलाश जारी थी। झंझारपुर प्रखंड के नवटोलिया के लोग एनएच -57 पर शरण लिए हैं। इन्हें कोई सहायता नहीं मिली है।

    समस्तीपुर : बूढ़ी गंडक और गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि जारी रही। कल्याणपुर में बागमती नदी तेजी से बढ़ रही है। हसनपुर और बिथान प्रखंड के निचले इलाके में खेतों में कोसी व कराह का पानी बह रहा है। भारी बारिश के दौरान घर गिरने से सिंघिया थाना क्षेत्र के जीवाडेली गांव में एक महिला की मौत हो गई।

    सीतामढ़ी : जिले के नए इलाकों में पानी घुसने लगा है। बाढ़ के पानी डूबने से दो की मौत हो गई। सोनबरसा, सुरसंड, भिट्ठामोड़ और रुन्नीसैदपुर में पानी तेजी से फैल रहा है। बागमती नदी खतरे के निशान से ऊपर है। लालबकेया भी गुआबारी में लाल निशान के पार है। सोनबरसा में झीम नदी, पुपरी में अधवारा नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। लखनदेई नदी में बाढ़ से सीतामढ़ी शहर पर भी खतरा बढऩे लगा है। ङ्क्षरगबांध से सटा भवदेपुर इलाका बाढ़ के पानी से घिरा है। विस्थापित रेलवे लाइन पर शरण लिए हैं।

    शिवहर : बागमती खतरे के निशान से 1.02 मीटर ऊपर बह रही है। बेलवा घाट के पास ध्वस्त बांध की मरम्मत हो रही है। डुब्बा घाट के पास जलजमाव के कारण मोतिहारी और सीतामढ़ी के लिए वाहनों का परिचालन प्रभावित रहा।

    दरभंगा : ठेगहा गांव के पास नवनिर्मित ह्यूम पाइप पुल का एक हिस्सा कमला नदी की तेज धारा में बह गया है। तराडीह के देवना के पास कमला नदी के पश्चिमी तटबंध में रिसाव हो रहा है। प्रशासन रोकने का प्रयास कर रहा है।

    मुजफ्फरपुर : बागमती, लखनदेई, गंडक, बूढ़ी गंडक समेत अन्य नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। बागमती का पानी औराई के 12 सौ घरों में घुस गया है। आवागमन के लिए नाव का सहारा है। कटरा के बकुची स्थित पावर सब स्टेशन में पानी घुसने से विद्युत आपूर्ति ठप हो गई है। सभी प्रमुख सड़कों पर पानी बहने से आवागमन बाधित हो गया है।

    Posted By: Murari Kumar

    No comments

    Total Pageviews

    Followers